Dr Kumar Vishwas

अमावस की काली रातों में दिल का दरवाजा खुलता है – डॉ कुमार विश्वास

डॉ कुमार विश्वास(Dr Kumar Vishwas) एक ऐसा नाम जिसने हिन्दी साहित्य और कविता जगत को अपने अथक प्रयास तथा संघर्ष…

Read More
बालिका से वधू

बालिका से वधू – रामधारी सिंह “दिनकर”

माथे में सेंदूर पर छोटी दो बिंदी चमचम-सी, पपनी पर आँसू की बूँदें मोती-सी, शबनम-सी। लदी हुई कलियों में मादक…

Read More
गोपालदास "नीरज"

अब तुम्हारा प्यार भी – गोपालदास “नीरज”

श्री गोपालदास “नीरज” जी द्वारा रचित गीत अब तुम्हारा प्यार भी मुझको नहीं स्वीकार प्रेयसि (Ab Tumhara Pyar Bhi Mujhko…

Read More
जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना

जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना – गोपालदास “नीरज”

सफल कवि वही होता है जिसकी कविताएँ मुहावरे के रूप में जनमानस के कंठों से यदा – कदा कभी न…

Read More
रामधारी सिंह दिनकर

समर शेष है – रामधारी सिंह “दिनकर”

राष्ट्रकवि श्री रामधारी सिंह “दिनकर” जी हमेशा ऐसे पहलू पर अपनी कविताओं के मध्यम से प्रकाश डालते रहे हैं जो…

Read More
मन्जिल दूर नहीं है

मन्जिल दूर नहीं है – रामधारी सिंह “दिनकर”

श्री रामधारी सिंह दिनकर जी बहुआयामी प्रतिभा के धनी व्यक्ति थे जिन्होंने अनेक ऐसी रचनाएं लिखी जिनसे दिनकर जी को…

Read More
आशुतोष राणा

हे भारत के राम जगो – आशुतोष राणा

हे भारत के राम जागो मै तुम्हे जगाने आया हूँ (He Bharat Ke Ram Jago,  Mai tumhe Jganae aya Hun…

Read More
गोपालदास नीरज

कारवाँ गुज़र गया, गुबार देखते रहे – श्री गोपालदास “नीरज”

कारवाँ गुज़र गया, गुबार देखते रहे (Karvan Guzar Gaya Gubar Dekhte Rahe) – श्री गोपालदास “नीरज” द्वारा लिखा गया बहुत…

Read More
श्री रामधारी सिंह “दिनकर

फलेगी डालों में तलवार – रामधारी सिंह दिनकर – Hindi Kavita

फलेगी डालों में तलवार (Falegi Dalon Me Talwar) कविता श्री रामधारी सिंह “दिनकर” जी द्वारा लिखी गयी कविता है इस…

Read More
ध्वज-वंदना

ध्वज-वंदना – रामधारी सिंह “दिनकर”

श्री रामधारी सिंह दिनकर जी की कविताओं में देश प्रेम की अमिट छाप हमेशा दिखाई देती है| दिनकर जी की…

Read More